VPN क्या है? What is VPN in Hindi

0
168
What is VPN in Hindi & VPN kya hai

What is VPN In Hindi (VPN क्या है?)

What is VPN in Hindi:- VPN का Full Form है Virtual Private Network. ये एक Service है जिसकी मदद से आप अपने Device(Laptop/Mobile) को Internet के साथ Safely और Privately Connect कर सकते हो।

VPN के through internet से connect होने के बाद, आप क्या Search करते हो? क्या Download करते हो? इसका पता कोई नहीं लगा सकता है।

इसके अलावा VPN आपके important और Sensitive data को Hackers से बचाने का काम भी करता है।

For e.g.:- जब आप कोई File VPN के through किसी और को भेजते हो, तो वो File encrypted format मे होती है। जिसकी वजह से कोई भी Hacker उस File के Data को access नहीं कर सकता है और ना ही उस Data के साथ छेड़-छाड़ कर सकता है।

What is VPN in hindi

VPN का इस्तेमाल ज़्यादातर Government Agencies, Educational Institution, Corporate और Online Business करने वाले व्यापारी करते है। ताकि वो अपने Data को Safe रख सके और दुनिया के किसी भी कोने से Privately Access कर सके।     

पिछले कुछ सालों से Personal VPN का इस्तेमाल भी लगातार बढ़ते जा रहा है क्यूंकी हर इंसान चाहता है की उसका Data Safe रहे और Internet पर वो क्या Search करता है इसके बारे मे किसी को भी पता ना चले।

इसके अलावा बहुत सारे देशो मे वहाँ की Government कुछ Websites को Block करवा देती है। ऐसी Websites पर Visit करने के लिए भी लोग Personal VPN का इस्तेमाल करते है।

VPN काम कैसे करता है ? (How does a VPN Work ?)

VPN के Working Model को हम Step by Step समझने की कोशिश करते है।

Step 1: सबसे पहले आप अपने VPN Software या Application मे Login करते है।

Step 2:- उसके बाद आप जिस Website पर Visit करना चाहते है वो Data Enter करते है।

Step 3:- फिर VPN आपके Data को Encrypt करता है। Encryption का process इतना fast होता है की आपका Original data ISP (Internet Service Provider) को भी नहीं दिखता।

Step 4:- उसके बाद Encrypted Data VPN Server पर जाता है।

Step 5:– फिर VPN Server से आपकी Destination Website पर। Destination Website मतलब वो website जिस पर आप Visit करना चाहते है।

Read More:-

जब आप बिना VPN के internet use करते है तो आपका Original Data आपकी location से Destination Website की तरफ़ Travel करता है। ये Completely Unsafe होता है क्यूंकी कोई भी आपके Data को देख सकता है और उसके साथ छेड़-छाड़ कर सकता है।

VPN का इस्तेमाल करने से आपका Data Encrypted Format मे Travel करता है। Data सबसे पहले VPN Server पर जाता है।

उसके बाद VPN Server आपके Behalf पर Destination Website से Interact करता है। Destination Website को लगता है की Request VPN Server से आई है।

कोई भी ये Identify नहीं कर सकता की Website Access करने की Request आपने दी है या फिर आपके Device(Computer/मोबाइल) से आई है।

अगर कोई देखना चाहता है की आप क्या Data भेज रहे हो तो उसको Encrypted Data दिखेगा। वो Original Data नहीं देख पाएगा।

VPN क्या कर सकता है? (What VPN can do?)

Virtual Private Network आपको बहुत सारे तरीको से Help कर सकता है। जैसे की,

1) आपकी Location और IP Address को छुपाने में:-

जब आप VPN के Through Internet पर कुछ Search करते है तो Request सबसे पहले VPN Server पर जाती है उसके बाद Destination Website पर।

VPN आपके IP Address को VPN Server के IP Address से change कर देता है। जिसकी वजह से Destination Website को VPN Server का IP Address दिखता है आपका नहीं।

किसी को भी ये पता नहीं चलता की Actual request आपके IP Address और Location से आई थी।

2) आपके Data को Encrypt करने में:-

VPN आपके Searches और Communications को Encrypt कर देता है जिसकी वजह से कोई भी Hacker आपके Original Data को देख नहीं सकता और ना ही कोई छेड़-छाड़ कर सकता है।

अगर Hacker आपके Data को देखने की कोशिश भी करेगा तो उसको Encrypted Data मिलेगा जिसको वो Decrypt नहीं कर पाएगा।

आपका Data Completely Safe रहता है और कोई भी उसका Misuse नहीं कर सकता है।

VPN Kya hai

3) Blocked Websites को Open करने में:-

कुछ Websites ऐसी होती है जिनको Government देश की भलाई के लिए Block कर देती है। VPN का इस्तेमाल करके आप ऐसी Blocked Websites को Open कर सकते हो।

Blocked Websites को open करने के लिए आपको अलग Country का VPN Server Select करना होता है।

VPN Software मे login करने के बाद आपको Country Choose करने का Option आता है। आप अपनी Country के अलावा कोई भी और Country का VPN Server Select कर सकते हो।

For e.g.:- अगर कोई Website India मे Block है तो आप USA या UK का VPN Server Select करके Open कर सकते हो।

क्यूकी Website को Indian Government ने block किया होगा लेकिन USA और UK की Government ने नहीं।

4) आपको जो Content देखना है वो दिखाने मे:-

अगर आप कोई ऐसी Film या Web series देखना चाहते हो जो आपकी Country मे अभी तक Release नहीं हुई है। तो VPN की मदद से आप वो देख सकते हो।

For e.g.:- कोई Web Series है जो USA मे Release हो चुकी है लेकिन India मे नहीं हुई है। तो उस Web series को India मे VPN की मदद से देखा जा सकता है।

VPN Software मे login करने के बाद आपको सिर्फ़ USA का VPN Server select करना होगा।

5) Online Activities को Unauthorized Users से बचाने में:-

Internet पर हम क्या Search करते है और क्या Download करते है इसके बारे मे सारी Information हमारे ISP (Internet Service Provider) और Government के पास होती है। क्यूंकी ये हमारी Online Activities को Track करते है।

अगर आप चाहते है की कोई भी आपकी Online Activities को Track ना कर पाए तो VPN की Help ले सकते है।

VPN का इस्तेमाल कैसे करें? (How to use VPN?)

Market में आपको 2 प्रकार के VPN मिल जायेंगे। Paid VPN और Free VPN.

Free VPN Service में Limited Features होते है वहीँ Paid VPN Service में ज़्यादा features होते है क्यूंकि आप इस Service के लिए Pay करते है।

अगर आप अपने Computer और Mobile में Free VPN Service use करना चाहते है तो निचे बताए तरीको का इस्तेमाल करे।

Computer के लिए Free VPN ( Free VPN Service for Computer)

Free VPN Service Computer में use करने के लिए निचे दिए गए Steps Follow कीजिए।

Step 1:- सबसे पहले आपको Opera Browser आपके Computer में Download करना होगा। Download करने के लिए निचे दी गई Link पर Click कीजिए।

https://www.opera.com/nl/download

Step 2:- Click करने के बाद आपके सामने एक Window Open हो जाएगी। जिसमे आपको 3 option दिखेंगे Windows, Mac और Linux. आप जो भी Operating System use कर रहे है उसके हिसाब से Select करके Download कर लीजिए और अपने Computer में Install कर लीजिए।

Opera VPN for Computer

Step 3:- उसके बाद आपको Opera Browser को Open करना है और Upper left hand side में लाल color का O लिखा होगा उस पर click करना है।

Free VPN for Computer

Step 4:- Click करने के बाद एक Drop Down Menu Open हो जाएगा। जिसमे से आपको Settings Option पर Click करना है।

Free VPN for Compute

Step 5:- उसके बाद एक New Window Open हो जाएगी जिसमे आपको Left Hand Side में Advance का Option दिखेगा उस पर click करना है। उसके बाद Privacy & Security पर Click करना है।

Step 6:- Privacy & Security पर Click करने के बाद Page को थोड़ा Scroll Down करना होगा। आपको वहाँ पर VPN का Option दिखेगा जिस पर Click करके VPN को Enabled कर लेना है।

Step 7:- उसके बाद VPN आपके Computer में Activate हो जायेगा। आप Opera Browser के Upper left hand side में देख सकता है VPN लिखा होगा।

Step 8:- अगर आप VPN Server Manually Select करना चाहते है तो VPN पर click करके Optimal Location पर click कीजिए। आपके सामने कुछ Options आ जाएंगे उनमे से आप Select कर सकते है। 

Free VPN for Computer

Mobile के लिए Free VPN ( Free VPN Service for Mobile)

Mobile में Free VPN Service use करने के लिए निचे दिए गए Steps follow कीजिए

Step 1:- सबसे पहले आपको Playstore (Android) या AppStore (iOS) में एक Application Search करनी होगी। Application का नाम है Hola Free VPN Proxy.

Free VPN App for Android

Step 2:- उसके बाद Hola Application को Mobile में Install कर लेना है।

Step 3:- फ़िर Term & Condition को Agree करना होगा। जिसके लिए आपको I AGREE पर Click करना होगा। 

how vpn works

Step 4:- उसके बाद Application के Upper Left Hand Side में एक Flag बना होगा। उस पर Click करना होगा।

Step 5:- Flag पर Click करने के बाद बहुत सारी Countries की List आ जाएगी। आप कोई भी Country का VPN Server Select कर सकते है।

Free VPN App for Android

Step 6:- उसके बाद आपके Mobile में जो Browser होगा उसे Select करके Start Button पर click करना होगा.

Free VPN App

Step 7:- Finally VPN Service आपके Mobile में Activate हो जाएगी।  

VPN के फ़ायदे (Advantages of VPN)

1) VPN आपकी Online Activities को छुपाता है।

जब आप VPN Service use करते है तो VPN आपके IP Address को change कर देता है और आपके Data को encrypt करता है। जिसकी वजह से कोई भी आपकी Online Activities को Track नहीं कर सकता है।

अगर आप VPN use नहीं करते है तो Hackers आपके IP Address को track कर सकते है और आपके Personal details चुरा सकते है।

आपका ISP(Internet Service Provider) भी आपकी Online Activities को Track कर सकता है और अपने फायदे के लिए आपके Data को Advertisers को बेच सकता है।

2) VPN आपको Bandwidth Throttling से बचाता है।

Bandwidth Throttling मतलब जब आपका ISP(Internet Service Provider) जान-बूझकर आपके Internet की Speed को Slow या फिर Fast कर देता है।

आपने experience किया होगा, कभी कभी आपका Internet बहुत slow चलता है। महीने मे कम से कम 2 3 बार तो ऐसा होता ही है।

आपका Internet Service Provider ये जान-बूझकर करता है ताकी Network मे Congestion ना हो और सभी Users को Proper Bandwidth मिल सके।

VPN Service आपको Bandwidth Throttling से बचाती है क्यूंकी ये आपके Internet Traffic को Encrypt कर देती है। जिसकी वजह से Internet Service Provider को पता नहीं चलता आप कितना Bandwidth use कर रहे है।

Read More:-

3) VPN Service Firewalls को Bypass करने मे Help करती है।

आपने देखा होगा Office में, School में, Airport पर, Hotels में कुछ Website Open ही नहीं होती है। क्यूंकी वहाँ पर Network Firewalls लगे होता है जो आपको उन Websites को Access नहीं करने देते है।

VPN की help से आप उन Firewalls को Bypass कर सकते हो। क्यूंकी VPN आपके IP address को Change कर देता है।

IP address change हो जाने के बाद Firewalls को पता नहीं चलता की website को access करने की Request आपके IP से आई है।

4) VPN की Help से Office का काम घर से किया जा सकता है।  

आपने देखा होगा कुछ लोग Office का काम घर बैठे बैठे ही कर लेते है। ऐसे लोग VPN की help लेते है Office के Private Network के साथ Safely और Privately connect होने के लिए।

VPN एक Secure Connection established करता है Device (Laptop/Mobile) और Company के Private Network के बीच मे।

Communication और Data Transformation Encrypted Format मे होता है जिसकी वजह से कोई भी Hacker data को चुरा नहीं सकता है और ना ही Data के साथ छेड़-छाड़ कर सकता है।

5) VPN Service Geo-Blocks को bypass करने मे help करती है।

कुछ Websites ऐसी होती है जिनको Specially कुछ Countries के लिए बनाया जाता है। अगर आप उन Websites को अपनी Country से access करने की कोशिश करोगे तो नहीं कर पाओगे।

For e.g.:- एक Website है जो सिर्फ USA के लिए बनाई गयी है। अगर आप उस Website को India या किसी और Country से Open करना चाहते है तो नहीं कर पाएंगे।

क्यूंकी उस Website पर Geo-Restriction Technology का इस्तेमाल किया गया है।

दोस्तो आप VPN की मदद से इस Technology को भी चकमा दे सकते है। आपको सिर्फ उस Country का VPN Server Select करना होगा जिसके लिए Website बनाई गयी है। उसके बाद आप Easily उस Website को Access कर पाएंगे।

VPN के नुकसान (Disadvantages of VPN)

वैसे तो VPN Service के नुकसान बहुत ही कम है फिर भी हमने कुछ Disadvantages नीचे Mansion किए है जिनके बारे मे आपको पता होना चाहिए।

1) VPN की वजह से आपकी Online speed slow हो सकती है।

Speed का Slow होना बहुत सारे Factors पर depend करता है। जैसे की, VPN Server आपसे कितना दूर है, कौनसा VPN Protocol use किया है, Encryption कितना Strong है वगैरा वगैरा।

VPN की वजह से Speed एकदम slow नहीं होती है लेकिन थोड़ा बहुत फर्क पड़ता है। अगर आपके Internet की Speed अच्छी है, CPU अच्छा है तो शायद आपको Feel भी ना हो।

2) ख़राब VPN की वजह से आपकी Privacy ख़तरे मे आ सकती है।

VPN आपके Data को Online Protect करने का काम करता है। लेकिन ख़राब VPN Service आपके Data को ख़तरे मे भी डाल सकती है।

Free VPN Services मे Complete Security नहीं मिलती है, Data Encryption उतना अच्छा नहीं होता है, जिसकी वजह से Data के Misuse होने का ख़तरा बना रहता है।

कुछ VPN आपकी Online Activity को Track करते है और उसका Record भी रखते है। ऐसी VPN Services से दूर ही रहना चाहिए।

Read More:-

3) अच्छी VPN Service के लिए आपको पैसे ख़र्च करने पड़ते है।

आपके Data को online secure रखने के लिए Free VPN reliable option नहीं है। अच्छी VPN Service खरीदने के लिए 500 से 1000 रूपए हर महीने ख़र्च करने पड़ते है।

जो लोग इतना पैसा ख़र्च नहीं कर सकते उनके लिए ये एक तरह का Disadvantage है।

4) VPN हर Device को Support नहीं करता है।

Market मे जीतने भी popular platforms available है VPN Services सिर्फ उनमे ही काम करती है। जैसे की, Windows, iOS, macOS & Android.

पर कुछ Operating System और Devices ऐसे भी है जिनमे VPN Service काम नहीं करती है। जैसे की, Linux, Chromebook,Boxee Box.

अगर आप इनमे से कोई Platform use कर रहे है तो आपको Manually VPN setup करना होगा।

दोस्तो उम्मीद है आपको समझ मे आ गया होगा What is VPN in Hindi. हमने इस post मे आपको VPN से Related सारी चिजे details मे बताने की कोशिश की है। 

VPN Kya hai और कैसे काम करता है अगर आपको समझ मे आ गया है तो हमारे इस Post को लिखने का मकषद Pura हुआ।

What is VPN in Hindi अगर आपको ये Post अच्छा लगा तो Comment Box मे लिखकर ज़रूर बताए। जो लोग Technology के बारे मे पढ़ना पसंद करते है उनके साथ ये Post ज़रूर SHARE करे। 

ख़ुश रहे और अपने आस पास सबको ख़ुश रखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here